टेस्ट में शीर्ष टीम की तरह खेलें टीम इंडिया : शास्त्री

मुंबई । न्यूजीलैंड के खिलाफ 21 फरवरी से शुरु होने वाली टेस्ट सीरीज से ठीक पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि हमें विश्व की नंबर एक टीम की तरह खेलना होगा। इस सीरीज में भारतीय टीम मेजबानों से दो टेस्ट मैच खेलेगी। यह मैच वेलिंग्टन और क्राइस्टचर्च में खेले जाएंगे। शास्त्री ने कहा, ‘ हमें विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने के लिए अभी 100 अंक की और जरुरत है। अगर हम विदेशी धरती पर छह में से दो भी जीत लेते हैं तो बेहतर हाल में रहेंगे। इस साल हम विदेशों में 6 टेस्ट खेलने वाले हैं। इसमें से 2 न्यूजीलैंड में और 4 ऑस्ट्रेलिया में हैं।’
भारतीय टीम के कुछ प्रमुख खिलाड़ी इस समय फिट नहीं होने के कारण टीम से बाहर हैं पर उनकी जगह शामिल प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ियों पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल को लेकर कोच शास्त्री उत्साहित हैं। पृथ्वी टेस्ट टीम में वापसी कर रहे हैं और शुभमन से सलामी बल्लेबाज के तौर पर उनका मुकाबला है। शास्त्री ने कहा कि यह दोनो ही खिलाड़ी बेहद प्रतिभाशाली हैं अब देखना है कि पहले टेस्ट में दोनो में से किसे अंतिम ग्यारह में अवसर मिलता है। शुभमन की तारीफ करते हुए शास्त्री ने कहा, ‘उनमें असाधारण प्रतिभा है। वह जब बल्लेबाजी करते हैं तो उनका सकारात्मक रुख साफ देखा जा सकता है। इस टेस्ट सीरीज में रोहित शर्मा के न होने से मयंक अग्रवाल के साथ पृथ्वी शॉ या शुभमन गिल को पारी शुरु करने का अवसर मिल सकता है। इस बार टीम इंडिया खिलाड़ियों की फिटनेस से जूझ रही है।
शिखर धवन, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और इशांत शर्मा कारण से टीम में इसी वजह से नहीं हैं। लगातार क्रिकेट के दबाव के कारण भी खिलाड़ियों की फिटनेस प्रभावित हो रही है। शास्त्री ने इस पर कहा, ‘हमारी कोर टीम के चार से पांच खिलाड़ी चोट के कारण बाहर हैं। भुवी यहां के हालातों में बेहद उपयोगी हो सकते हैं। इसलिए मैंने कहा कि उपलब्ध विकल्प हमेशा टीम के फायदेमंद होते हैं।’ तेज गेंदबाज इशांत शर्मा अभी तक पूरी फिटनेस हासिल नहीं कर सके हैं और पहले टेस्ट के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे। भुवनेश्वर भी बाहर हैं, ऐसे में जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के ऊपर रहेगी। कोच ने कहा, ‘यह अहम है कि वे अभी अपने ऊपर के कार्यभार को कैसे मैनेज कर रहे हैं। टी20 खेलने जरूरी थे क्योंकि यह फॉर्मेट इस साल और अगले साल भी (टी 20 वर्ल्ड कप के कारण) महत्वपूर्ण है। टेस्ट क्रिकेट हमेशा सर्वोपरि होता है। हम केवल आशा कर सकते हैं कि बाकी खिलाड़ी जल्द से जल्द पूरी तरह से फिट हो जाएं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!