माघी मेले की तैयारी जोरो पर हुई बैठक

बिलासपुर । में हर माघी पूर्णिमा पर लगने वाले मेले की तैयारी को लेकर शुक्रवार को अहम बैठक रखी गई। रविवार 9 फरवरी से आरंभ होने वाले मेले का समापन 15 फरवरी को होगा। लेकिन अघोषित रूप से यह मेला करीब महीने भर तक चलेगा। इस बार मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है इसलिए बारिश के प्रभाव से इंकार नहीं किया जा रहा। शुक्रवार को विश्व दीपक त्रिपाठी एसडीएम कोटा आनंदरूप तिवारी नायब तहसीलदार रतनपुर पेखन टोडरे नगर पालिका अध्यक्ष घनश्याम रात्रे पार्षद कन्हैया यादव लक्ष्मी कश्यप आदि की उपस्थिति में मेले की तैयारियों को लेकर बैठक आरंभ हुई। यहां भोजन व्यवस्था आधार कार्ड महिला बाल विकास के सुपरवाइजर बैठक में नहीं पहुंचे जिसे लेकर अधिकारियों ने खासी नाराजगी जाहिर की। यहां यह बात भी निकल कर आई कि विद्युत और आवास की मांग, आवास के दस्तावेज के लिए पटवारी के द्वारा रुपए मांगे जा रहे हैं। दरअसल बैठक में बड़ी संख्या में पार्षद और नगर वासी भी मौजूद थे जिन्होंने मेले के अतिरिक्त अपनी समस्याओं को भी यहां रखा, जिसे लेकर अधिकारियों ने सख्त तेवर दिखाएं । माघी पूर्णिमा मेला और सरकारी प्रदर्शनी के मद्देनजर अलग-अलग विभाग के अधिकारी और कर्मचारी भी मौजूद थे। बैठक में इस बार कई अहम निर्णय लिये गए है। साफ तौर पर कहा गया है कि मेले में किसी भी कीमत पर जुआ नहीं चलने दिया जाएगा। लोगों ने पूछताछ केंद्र बनाने की मांग रखी तो वही अस्थाई पुलिस चौकी बनाने पर भी सहमति बनी है। यहां सभी सरकारी विभागों के स्टाल निरीक्षण के लिए लगाए जाएंगे साथ ही प्रति संध्या पश्चात यहां विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति होगी। रतनपुर में भरने वाले माघी पूर्णिमा मेले की ख्याति दूर-दूर तक है। इस अवसर पर सडक़ के दोनों ओर तरह-तरह की दुकानें सजेगी। वही मेला स्थल पर दुकानों के साथ झूले और अन्य मनोरंजन के साधन उपलब्ध होंगे। रविवार से आरंभ होने वाले मेले को लेकर तैयारियां जोरों पर है, लेकिन प्रशासनिक स्तर पर ढुलमुल रवैया अभी भी स्पष्ट तौर पर दिखाई पड़ रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!