छत्तीसगढ़ी गहनों के सौंदर्य को निहारेगा पूरा देश

छत्तीसगढ़ी गहनों के सौंदर्य को निहारेगा पूरा देश

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ। स्वास्थ्य के साथ-साथ त्वचा का भी ध्यान रखना जरूरी है क्योंकि अगर इसे लेकर कोई भी लापरवाही बरती जाए तो आपको कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाने में केमिकल पील फेस मास्क काफी मदद कर सकते हैं क्योंकि यह डेड स्किन सेल्स, मुंहासों के निशान, झुर्रियां और हाइपरपिग्मेंटेशन आदि से राहत दिला सकता है। आइए आज पांच तरह के केमिकल पील फेस मास्क बनाने और लगाने के तरीके जानते हैं। केमिकल पील फेस मास्क क्या है?केमिकल पील फेस मास्क किसी केमिकल से बनने वाला कोई फेस मास्क नहीं है बल्कि यह घरेलू चीजों से बनाया जाने वाला पील फेस मास्क है, जिसके इस्तेमाल से त्वचा से डेड स्किन सेल्स हटाने, फाइन लाइन्स और हाइपरपिग्मेंटेशन आदि से छुटकारा मिल सकता है। झुर्रियों से राहत पाने के लिए अंडे और खीरे का बनाएं पील फेस मास्कइसे बनाने के लिए पहले एक कटोरी में एक अंडे का सफेद भाग और आधा कप बीज रहित खीरे के पेस्ट के साथ फेंट लें, फिर इसमें एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं। अब इस मिश्रण को साफ चेहरे पर लगाकर 20 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद इसे चेहरे से उतारें। यह केमिकल पील फेस मास्क न सिर्फ त्वचा में कोलेजन की मात्रा को बढ़ाकर झुर्रियों को कम करता है बल्कि इसे हाइड्रेट करने में भी सहायक है। रूखी त्वचा के लिए बेहतरीन है एएचए केमिकल पील फेस मास्कएएचए यानी अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड से युक्त केमिकल पील फेस मास्क, जो रूखी त्वचा को नमी प्रदान करने में मदद कर सकता है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले एक कटोरी में एक चौथाई कप गन्ने की चीनी और एक चौथाई कप ग्रीक योगर्ट मिलाएं, फिर इस मिश्रण को साफ चेहरे पर लगाएं और जब यह सूख जाए तो चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। यह पील फेस मास्क चेहरे को पोषित करने में भी सहायक है। तैलीय त्वचा के लिए फायदेमंद है बीएचए केमिकल पील फेस मास्कबीएचए का मतलब बीटा हाइड्रॉक्सी एसिड है, जिससे युक्त केमिकल पील फेस मास्क त्वचा में सैलिसिलिक एसिड का उत्पादन बढ़ाकर अतिरिक्त तेल को सोखने में मदद कर सकता है। इसे बनाने के लिए पहले एक कटोरी में एक चम्मच बेकिंग सोडा को पानी में मिलाएं, फिर एक अलग कटोरी में नींबू के रस से भिगी एस्पिरिन की 12 गोलियां पीसकर मिलाएं। अब इस मिश्रण को चेहरे पर लगाकर 20 मिनट तक रूकें, फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। मुंहासों के निशान से राहत दिलाने वाला सेब के सिरके का पील फेस मास्कसेब का सिरका कई ऐसे गुणों से समृद्ध होता है, जो डेड स्किन सेल्स को हटाकर मुंहासे के निशान को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसका केमिकल पील फेस मास्क बनाने के लिए सबसे पहले एक कटोरी में एक चम्मच शुद्ध सेब के सिरके को एक छोटी चम्मच एप्पल सॉस के साथ मिलाएं। अब इस मिश्रण को साफ चेहरे पर लगाकर 15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। संवेदनशील त्वचा वाले लगाएं खीरे और ग्रीन टी का पील फेस मास्कविटामिन- सी युक्त खीरा और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण से समृद्ध ग्रीन टी संवेदनशील त्वचा को निखारने में काफी मदद कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए एक पैन में एक कप कैमोमाइल टी और ग्रीन टी को 100 मि.ली. पानी में डुबोएं, फिर इसमें बिना स्वाद वाला जिलेटिन मिलाएं। अब इस मिश्रण में एक खीरे का रस मिलाकर गैस बंद करें और जब मिश्रण ठंडा हो जाए तो इसे चेहरे पर लगाएं, फिर इसके सूखने के बाद इसे चेहरे से उतारें।