तीन महीने में शुरू हो जाएगा राम मंदिर का निर्माण, विपक्षी दल मामले को लटकाए रखना चाहते थे : अमित शाह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एलान किया कि अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मभूमि स्थल पर तीन महीनो में मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। उन्होंने मंदिर मुद्दे पर भी विपक्ष को कठघरे में खड़ा करते हुए उस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सैकड़ों साल पुराने मामले को कांग्रेस सहित विपक्षी दल लटकाए रखने चाहते थे। लेकिन मोदी सरकार के प्रयास से सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई तेज हुई। हम लोगों का जीवन धन्य है कि हमारे जीवन काल में अयोध्या में गगनचुंबी राम मंदिर का बनने जा रहा है। शाह मंगलवार को लखनऊ के बंगला बाजार में रामकथा पार्क में सीएए के समर्थन में आयोजित रैली को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कई बार राम मंदिर पर सुनवाई का विरोध किया। उस दिन हमारा जीवन धन्य हो जाएगा जिस दिन ‘श्रीराम जन्मभूमि’ पर बनने वाले गगनचुंबी मंदिर में रामलला विराजमान हो जाएंगे। शाह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से बनने वाले राम मंदिर का भी कांग्रेस, अखिलेश और मायावती विरोध कर रहे हैं। कहा कि पांच सौ साल पहले भगवान राम का मंदिर आक्रमणकारियों ने तोड़ दिया था। मंदिर निर्माण के लिए लगातार आंदोलन हुए। लाखों लोगों ने बलिदान दिया। जब तक कांग्रेस सरकार थी उसने राम मंदिर का निर्माण नहीं होने दिया। कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल कोर्ट में कहते रहे कि अभी सुनवाई न करिए। केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद सर्वोच्च न्यायालय में जल्द सुनवाई शुरू कराने की कोशिश हुई तो भी सिब्बल ने कई बार अड़ंगा डाला। शाह ने कहा कि जनता ने 303 सीटों के साथ मोदी की सरकार फिर बनवाई तो केंद्र के प्रयास से सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई फिर तेज हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!