दावोस में अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन के साथ हुई ट्रेड डील को ऐतिहासिक कदम बताया

दावोस । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से ट्रेड डील को दुनिया के लिए ऐतिहासिक कदम बताया है। दावोस में विश्व आर्थिक मंच पर ट्रंप ने कहा कि मैं पिछली बार नहीं आ पाया, लेकिन इस बार आया हूं। दुनिया की अर्थव्यवस्था में तरक्की के लिए हमारी सरकार ने चीन से ट्रेड डील की, जिसका फायदा पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को होगा। ट्रंप ने कहा कि उनके कार्यकाल से पहले अमेरिका कई बड़ी कंपनियां बंद हो गई थीं। लेकिन जब वहां पावर में आए तो उन्होंने उनमें से कई कंपनियां फिर चालू करवाने का काम किया है। अपनी सरकार की उपलब्धि बताते हुए ट्रंप ने बताया कि उनके कार्यकाल के दौरान अमेरिका में चाइल्ड केयर पर बहुत काम किया गया है। बच्चों की हेल्थ से लेकर शिक्षा पर ट्रंप प्रशासन का फोकस रहा है। अमेरिका अर्थव्यवस्था को और मजबूत करने के लिए कई बड़े और कड़े फैसले लिए गए हैं।उन्होंने कहा कि दुनिया की आर्थिक तरक्की की राह में अमेरिका मदद के लिए तैयार है। लेकिन अमेरिका तब पीछे हट जाएगा, जब किसी फैसले से अमेरिकी को नुकसान होगा।बात दे कि विश्व आर्थिक मंच में डोनाल्ड ट्रंप के संबोधन पर दुनिया की नजर टिकी है। क्योंकि एक तरह पिछली बार ट्रंप इस फोरम में शामिल नहीं हुए थे। और इस बार अमेरिका में चुनाव से पहले डोनाल्ड ट्रंप के लिए एक अहम मंच है। दावोस में चल रही चार दिवसीय बैठक में दुनियाभर के शीर्ष राजनेता और कारोबारी शिरकत कर रहे हैं। इस दौरान धरती के बढ़ते तापमान के कारण पर्यावरण और अर्थव्‍यवस्‍था को खतरों पर भी चर्चा होगी।स्विट्जरलैंड स्थित विश्व आर्थिक मंच है, जो कि एक गैर सरकारी संगठन है। दुनिया भर में कारोबार, राजनीति, अकादमिक के क्षेत्र में काम करता है। वैश्विक, क्षेत्रीय और औद्योगिक लक्ष्यों को तय करने में विश्व आर्थिक मंच की बड़ी भूमिका रहती है। यह मंच हर साल जनवरी के अंत में स्विट्जरलैंड के दावोस के अल्पाइन स्काई रिजॉर्ट में सालाना मीटिंग का आयोजन करता है। इस मीटिंग में दुनिया भर से कारोबार, राजनीति, आर्थिक जगत के हजारों नेता हिस्सा लेते हैं और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!