हथरस घटना की कड़ी निंदा करते हुए तृतीय लिंग समुदाय ने निकाला कैन्डल मार्च, कहा हत्यारों को दी जाए फांसी की सजा…

दक्षिणापथ,दुर्ग। गुरूवार को दुर्ग गांधी चौक में संघर्ष एक जीवन समिति द्वारा उ.प्र. के हथरस में हुए मनीषा वाल्मीकि के साथ समूहिक बलात्कार कर उसकी जीभ काटा गया तथा रीड़ की हड्डी तोड दी गई। 15 दिन जीवन मृत्यु में संघर्ष करने के बाद उसकी मौत हो गई। जिस पर संघर्ष एक जीवन समिति के सदस्यों ने उनकी आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन धारण किया एवं कैन्डल मार्च निकाल कर उन्हें श्रद्धांजलि दी तथा बालात्कार के चारों आरोपियों को फांसी देने की मांग की हैं। तृतीय लिंग समुदाय के इन सदस्यों घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि उ.प्र. के पुलिस द्वारा वाल्मीकि समाज की कन्या और उसके परिजनों के साथ जो अभद्र व्यवहार किया उसकी हम कड़ी निंदा करते हैं। जिसके तहत आज हम तृतीय लिंग समुदाय द्वारा कैन्डल मार्च निकालकर अत्यंत दुख के साथ शोक व्यक्त करते है। ताकि आगे भविष्य में किसी और दलित कन्या या देश की बेटी के साथ ऐसा न हो इसके लिए इस जुर्म के चारो आरोपियों के लिए सीधे-सीधे फांसी की मांग करते हैं। ताकि आगे भविष्य में ऐसा कोई अपराध न करें।

error: Content is protected !!