उत्तरप्रदेश पुलिस और सरकार का तानाशाही चेहरा उजागर : जितेन्द्र साहू

दक्षिणापथ, भिलाई। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री जितेन्द्र साहू ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस और सरकार का तानाशाही चेहरा उजागर हो गया उन्होंने कहा कि आज हाथरस की बेटी के परिजनों से मिलने जा रहे कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को उत्तरप्रदेश पुलिस द्वारा धक्का मारकर रोका गया और उन्हें हिरासत में ले लिया गया। जिस तरह से राहुल का गिरेबान पकड़ गया और उनसे धक्का-मुक्की की गई। इससे उत्तरप्रदेश पुलिस और सरकार का तानाशाही चेहरा उजागर होता है।

तानाशाही योगी हुकूमत अपने इशारे पर पुलिस प्रशासन को चलाने का काम कर रही है और आज हाथरस में परिजनों से मिलने पहूंचे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को रास्ते में रोका गया और अभद्र व्यवहार किया गया। क्या यही भारत का लोकतंत्र है? क्या पीडि़त परिवार से मिलने जाना गुनाह है? उन्होंने कहा कि मैं योगी सरकार से कहना चाहता हूं जो कांग्रेस कार्यकर्ता अंग्रेजों की लाठी और गोलियों से नहीं डरी। तुम सोचते हो उनको गिरफ्तारी से डरा दोगे, तो ये तुमारा अहंकार और वहम है। इस आमानवीय कृत के खिलाफ पूरा देश एकजुट है और हम मिलकर उत्तप्रदेश सरकार के अहंकार और वहम दोनों ध्वस्त करेंगे, क्योंकि ये लड़ाई सच के लिए है, इंसानियत के लिए है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ देश की बेटियों को न्याय दिलाने के लिए हम कांग्रेस कार्यकर्ता हजार लाठी और खाने को तैयार है।

error: Content is protected !!