इन गौ रक्षको ने बचा लिया सेकड़ो गोवंशों की तश्करी होने व कत्लखाना पहुंचने से, थाने में शिकायत दर्ज…

दक्षिणापथ ,जेवरा। 22 सितम्बर को बड़ी संख्या में गौ वंश की तस्करी हो रही थी। इन गौ वंश को निर्दयता पूर्वक मारते पीटते पैदल हांकते हुए 7 लोगो द्वारा ननकटठी से ग्राम पथर्रा की ओर ले जाया जा रहा था। ग्राम पथर्रा गौ तस्करी का गढ़ है,जहां से हमेशा गौ तस्करी होती है। वहा से इन गौ वंशो को नागपुर कत्लखाना पहुंचा दिया जाता है। जिसे गौ पुत्रो के द्वारा रोका गया। अमिताब वर्मा गौ रक्षा समिति दुर्ग एवं हिन्दू युवा मंच के मंडल संयोजक है के द्वारा अपने सदस्यों के साथ जिसमे सागर चौबे,युवराज साहू, हेमकुमार निषाद,ललित निर्मलकर आदि सहित अन्य लोग शामिल थे इनके द्वारा गौ वंश के झुंड को ग्राम बासीन कचांदुर मोड़ के पास रोका गया, पूंछ तांछ करने पर वो सातों लोग गौ वंश को छोड़ कर भाग गए।

जिसमे 65 गाये, 9 बछिया, 10 बछड़े, 29 बड़े बछड़े, 2 नग सांड थे। इन सभी गौ वंशो को करंजा भिलाई के स्टेडियम में रखा गया है। जेवरा सिरसा चौकी थाना में अमिताब वर्मा द्वारा अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई गयी है। प्रशासन से शीघ्र से शीघ्र आरोपियों को पकड़ कर कार्यवाही करने की माग हिन्दू युवा मंच के द्वारा की गई है। वही गौ तस्करों से मिलीभगत का आरोप नंदकठठी के सरपंच पर लगाया जा रहा है। गौ तस्करों के पकड में आने के बाद ही सही बात का पता चल पायेगा। थाना प्रभारी बीपी शर्मा ने कहा कि गौ सेवा समिति के द्वारा शिकायत दर्ज की गई है। मामले की तफ्तीश हो रही है आरोपियों के पकड़ में आने पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

error: Content is protected !!