रायपुर के तर्ज पर दुर्ग –भिलाई में अनलाक किया जाय – कैट दुर्ग-भिलाई इकाई

करोना के रोकथाम लिए लाकडाउन करना कोई समाधान नही – कैट दुर्ग-भिलाई इकाई

करोना के रोकथाम के लिए जन जाग्रति लानी होगी – कैट दुर्ग भिलाई इकाई

दक्षिणापथ, दुर्ग। कैट (काॅन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ) दुर्ग -भिलाई इकाई द्वारा सभी व्यापारिक संगठनों के साथ आज विडिओ कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक आहूत की गई जिसमें कैट के प्रदेश उपाध्यक्ष पवन बड़जात्या, प्रदेश मंत्री ज्ञानचंद जैन, प्रदेश मिडिया प्रभारी संजय चौबे, प्रदेश एमएसएमई प्रभारी मोहम्मद अली हिरानी, कैट दुर्ग इकाई अध्यक्ष प्रहलाद रूंगटा, प्रहलाद कश्यप, आशीष निमजे, इंदिरा मार्किट व्यापारी संघ से अनिल बल्लेवार, संजय मोहनानी, दिलीप मारोटी, फ़ूड आयल संघ से अनिल शर्मा, थोक कपड़ा व्यापारी संघ से राजेश नाहटा, दुर्ग सराफा एसोसियेशन के सचिव नथमल जैन,टूर एंड ट्रैवलस संघ से रवि कुकरेजा,ग्लास एसोसिएशन से राजा पुरोश्तम टावरी,रामकुमार गुप्ता एवं कैट भिलाई के अध्यक्ष दिनेश सिंघल, सचिव सुश्री सुमन कनोजे, ने बताया की प्रदेश की राजधानी रायपुर के तर्ज पर दुर्ग-भिलाई को अनलाक किया जाना चाहिए ! एवं सभी व्यपारियों एवं संगठनों तथा जन प्रतिनिधियों के साथ मिलकर एक समीक्षा वैठक विडिओ कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की जानी चाहिए की लॉकडाउन कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने में कितना प्रभावी है इसकी समीक्षा के बाद ही आने वाले समय में फिर से लाकडाउन बढ़ाया जाना चाहिए!

कैट (काॅन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ) प्रदेश मिडिया प्रभारी संजय चौबे ने कहा की दुर्ग-भिलाई के सूक्ष्म व्यापारी, स्ट्रीट वेंडर,पसारा लागकर सब्जी एवं अन्य व्यवसाय बहुत छोटी पूंजी लगाकर अपना व्यवसाय करने वालों के समक्ष अपने परिवारों के जीवनयापन की बहुत बड़ी समस्या आन पड़ी है !

संजय चौबे ने कहा की छत्तीसगढ़ प्रदेश के लोकप्रिय मुखमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं उनके मंत्रीमंडल द्वारा उठाये गए सकारात्मक निर्णयों से प्रदेश की आर्थिक गतिविधियों में अन्य राज्यों की अपेक्षा बहुत ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है ! कोरोना वायरस का बढ़ता संक्रमण देश और दुनिया के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकना, हम सबकी जिम्मेदारी है इस हेतु हमें मास्क पहनना, फिजक्ल डिस्टेंस का पालन करना, हाथों को बार बार धोना इसके लिए सभी को जागरूकता लानी होगी !

प्रदेश उपाध्यक्ष पवन बडजात्या एवं मोहम्मद अली हिरानी ने कहा की जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती, तबतक कोरोना के लक्षणों का इलाज किया जाना ही उपाय है। इसके अलावा कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का प्रयोग जैसे तमाम एहतियात बरतने की जरूरत है। हम सभी व्यापारियों को संक्रमण के विरुद्ध लड़ाई के साथ-साथ अब आर्थिक मोर्चे पर भी पूरी ताकत से आगे बढ़ने की जरूरत है !

इंदिरा मार्केट व्यापारी संघ के अनिल बल्लेवार एवं कैट भिलाई इकाई अध्यक्ष दिनेश सिंघल ने कहा की छतीसगढ़ प्रदेश सरकार द्वारा बीते महीनों में कोरोना वायरस के इलाज से जुड़ी जिन सुविधाओं का विकास किया गया है, उनसे कोरोना का मुकाबला करने में बहुत मदद मिल रही है. ‘‘अब हम सभी व्यापारिक संघटनो एवं सामाजिक संगठनों को जन सहयोग द्वारा आगे आकर कोरोना से जुड़ी अधोसंरचना को मजबूत करना है, जो हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा, ट्रैकिंग-ट्रेसिंग से जुड़ा नेटवर्क है, उनकी बेहतर समझ लानी है.
कैट के प्रदेश मंत्री ज्ञानचंद जैन ने कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने में मास्‍क की भूमिका को महत्‍वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा, ‘‘संयम, संवेदना, संवाद और सहयोग का जो प्रदर्शन इस कोरोना काल में समस्त व्यापारियों एवं व्यपारिक संगठनों ने दिखाया है, उसको हमें आगे भी जारी रखना है.! आज के इस कार्यक्रम का संचलान अनिल बल्लेवार एवं कैट की सचिव सुश्री सुमन कन्नोजे एवं योगेश राठी ने किया !

error: Content is protected !!