होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों के लिए दुर्ग जिला प्रशासन द्वारा ‘दुर्ग होम केयर’ एंड्रॉयड ऐप’ लांच किया गया


टेस्टिंग पूरा करने के बाद अब प्ले स्टोर पर है उपलब्ध
अब तक 1000 से अधिक डाऊनलोड

दक्षिणापथ,दुर्ग। कोरोना के नियंत्रण एवं रोकथाम कार्यक्रम के तहत दुर्ग जिले में एक नवाचार किया गया है। होम आइसोलेशन के मरीजों की उचित देखभाल के लिए दुर्ग जिला प्रशासन द्वारा होम आईसोलेशन ऐप्लिकेशन निर्मित किया गया है जिसके माध्यम से कोरोना मरीज़ों की मॉनिटरिंग एवं देखभाल की जा रही है।
किसके लिए है ऐप और कैसे करें डाऊनलोड -यह मोबाइल एप केवल जिला प्रशासन के डेटा बेस में मौजूद कोरोना मरीजों के लिए है।जिनको अंडर टेकिंग डॉक्टर की अनुमति के बाद होम आइसोलेशन में भेजा गया है।इसके अलावा इस एप का उपयोग केवल एक्टिव मरीज कर सकते हैं।प्रतिदिन जिला प्रशासन की तकनीकी टीम द्वारा कोरोना मरीजों की लिस्ट डेटा बेस में डाली जाती है।इसके बाद लिस्ट के सभी मरीजों को बल्क मेसेज के माध्यम से एक लिंक https://play.google.com/store/apps/details?id=techsail.app.cg_health_check
भेजी जाती है।एंड्रॉयड यूज़र्स द्वारा इस लिंक पर क्लिक करने पर सीधे प्ले स्टोर के पेज खुलता है।जिसके बाद एप्लिकेशन डाउनलोड किया जा सकता है।इसके अलावा एंड्रॉयड फोन उपयोग करने वाले मरीज प्ले स्टोर में जाकर सर्च बार में दुर्ग होम केयर (Durg home care)लिखें एप लिस्ट में नज़र आने लगेगा यहां इस ऐप को डाउनलोड किया जा सकता है।
इसके बाद मरीज अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से लॉग इन कर सकते हैं।इसके बाद स्क्रीन पर उपलब्ध ‘हेल्थ’ ( Helath)टैब पर क्लिक करना होगा । जो अगला पेज खुलेगा उसमें प्रति दिन मरीज को दिन में 2 बार सुबह और शाम अपना बॉडी टेम्प्रेचर, पल्स रेट,ऑक्सीजन सेचुरेशन के साथ साथ अन्य डिटेल भरनी होती है। मरीज द्वारा भरी गई सभी डिटेल्स की मॉनिटरिंग चिकित्सकीय टीम करेगी।
क्या क्या जानकारी मिलेगी इस ऐप में इस ऐप में जिले के शासकीय अस्पताल ,कोविड केयर सेंटर में उपलब्ध बेड और आपात कालीन नम्बर भी उपलब्ध होगा।
मरीज भी कर सकते हैं अपनी सेहत की निगरानी -जैसे ही कोई मरीज अपनी डिटेल भरेगा कलर कोडिंग के माध्यम से दी गई जानकारी हाइलाइट हो जाती है।जैसे- यदि शरीर का तापमान सामान्य है तो पीले रंग से और यदि सामान्य से अधिक है तो की गई एंट्री लाल रंग से हाई लाइट हो जाएगी।जिसके आधार पर मरीज खुद अपने स्वास्थ्य की निगरानी कर सकता है। साथ ही जरूरत पड़ने पर तत्काल होम आइसोलेशन के लिए डेडिकेटेड कोविड सहायता केंद्र के नम्बरों 0788-2215151/52/53 औऱ 0788-2960077
पर सम्पर्क किया जा सकता है।इसके अलावा यदि निगरानी करने वाली टीम को मरीज के स्वास्थ्य से जुड़ी कोई चिंता की बात लगती है तो टेलिकॉलिंग टीम द्वारा भी मरीज को कॉल किया जाएगा। तकनीकी टीम से मिली जानकारी के मुताबिक अब तक दुर्ग होम केयर ऐप को 1000 से अधिक लोग डाउन लोड कर चुके हैं।
मरीजों को नोटिफिकेशन के माध्यम से मिलेगा रिमाइंडर
होम आइसोलेशन के मरीजों को बीच बीच मे पुश नोटिफिकेशन के माध्यम से दवाई लेने, ऑक्सीमीटर से जांच करने,तबियत बिगड़ने पर कहाँ कॉल करना है आदि की जानकारी भी मिलती रहेगी।
हिंदी,अंग्रेजी और छत्तीसगढ़ी में उपलब्ध होगी जानकारी
एप में हिंदी,अंग्रेजी और छत्तीसगढ़ी के माध्यम से जानकारी दी जाएगी। समय समय पर अपडेट उपलब्ध होगा इसके अलावा बेहतर बनाने के लिए सुझाव भी आमंत्रित किए जाएंगे ।

error: Content is protected !!