युवा महोत्सव में प्रदेश की ग्रामीण प्रतिभाओं को मिलेगा मंच

रायपुर, 10 जनवरी 2020 राजधानी रायपुर में 12 जनवरी से तीन दिवसीय राज्य स्तरीय युवा उत्सव आयोजित किया जा रहा है। इसमें प्रदेश की कई ग्रामीण प्रतिभाओं को अपनी कला के प्रदर्शन के लिए उचित मंच मिलेगा। इससे कई छिपी प्रतिभाएं सामने आएंगी और उन्हें निखरनेे का अवसर मिल सकेगा। अपनी प्रतिभा को इस मंच में साझा करने बेमेतरा जिले के 287 प्रतिभागी 24 विधाओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। इस दल में 151 पुरुष कलाकार तथा 115 महिला कलाकार तथा 14 पुरुष अधिकारी एवं 07 महिला अधिकारी शामिल होंगे। ये कलाकार करमा नृत्य, सुआ नाच, पंथी नृत्य, डंडा नाच, राउत नाच में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। लोक नृत्यों के साथ प्रतिभागी शास्त्रीय गायन, शास्त्रीय नृत्य में मणिपुरी, कत्थक, ओडिसी, भरतनाट्यम में भी अपनी कला का जौहर दिखाएंगे। लोकगीत के अलावा शास्त्रीय वादन श्रेणी में हारमोनियम, तबला, बांसुरी के सुरों की सरगम राजधानी में गूंजेंगी। वहीं चित्रकला, वाद-विवाद, तात्कालिक भाषण, निबंध प्रतियोगिता साथ ही साथ गेंड़ी चाल, फुगड़ी, भौंरा जैसे पारंपरिक प्रतियोगिता के अलावा छत्तीसगढ़ी व्यंजन एवं वेशभूषा में भी होनहार छात्र-छात्राएं बेमेतरा का प्रतिनिधित्व करेंगे।

राज्य स्तरीय युवा उत्सव में 15 से 40 वर्ष और इससे ऊपर के आयु वर्ग के प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। बेमेतरा जिले में कई सांस्कृतिक और खेल प्रतिभाएं छिपी हैं। क्षेत्र के इन कलाकारों के लिए युवा महोत्सव द्वारा मंच प्रदान किया जाना वरदान साबित हुआ है। विगत वर्ष जिले के कलाकारों ने मणिपुरी नृत्य, हारमोनियम वादन तथा बांसुरी वादन में राज्य स्तर पर पदक प्राप्त कर जिले को गौरवान्वित किया गया था। इस वर्ष भी जिला स्तर पर अपनी कला का लोहा मनवा चुके विजयी प्रतिभागी अब राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने उत्साहित है। ये प्रतिभागी 11 जनवरी को रायपुर आएंगे। युवा महोत्सव में आदिवासियों के परंपरागत कर्मा नृत्य, दीपावली के समय गांव-गांव में स्वस्फूर्त आयोजित राउत नाचा, सुआ नाच और पंथी नाच प्रतियोगिता के साथ शास्त्रीय गायन, वादन तथा नृत्य जैसी विद्या में भी क्षेत्र के कलाकार शीर्ष स्थान में जगह बनाने कड़ी तैयारी में लगे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!