टीम इंडिया सीरीज अपने नाम करने उतरेगी

पुणे। टीम इंडिया शुक्रवार को यहां टी20 सीरीज के अंतिम मुकाबले में जीत के साथ ही 2-0 से सीरीज अपने नाम करने उतरेगी। तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण नहीं हो पाया था जबकि दूसरे मैच में भारतीय टीम जीती थी। अब भारतीय टीम इस मैच में भी जीत की लय बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी। अब देखना यह होगा कि कप्तान विराट कोहली अंतिम मैच के लिए टीम में बदलाव कर नये खिलाड़ियों को अवसर देते हैं या नहीं। माना जा रहा है कि विराट इस मैच में उन खिलाड़ियों को अवसर देंगे जो काफी समय से इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में इस मैच में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन और बल्लेबाज मनीष पांडे को अवसर मिल सकता है। दोनो ने भी अब तक काफी बेहतर प्रदर्शन किया है पर ये दोनो ही टीम इंडिया में जगह नहीं बना पाये हैं। मनीष को पिछली तीन सीरीज में केवल एक बार ही खेलने का अवसर मिला है। इसके अलावा सैमसन को अभी तक एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला है। अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप को देखते हुए भारतीय टीम प्रबंधन युवा खिलाड़ियों को आजमा कर बेहतर टीम संयोजन बनाने का प्रयास कर रही है। वहीं दूसरी ओर अनुभवी खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी का इस बार भी खेलना तय माना जा रहा है। इन दोनो ने ही पिछले मैच में मिलकर पांच विकेट लिए थे। ठाकुर जहां डेथ ओवरों में अच्छे थे तो सैनी ने अपनी रफ्तार और उछाल से बल्लेबाजों को काफी परेशान किया।
कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि टीम हर मैच के साथ बेहतर होती जा रही है। सैमसन और मनीष को शुक्रवार को अवसर दिया जा सकता है। स्पिनर कुलदीप यादव और वाशिंगटन सुंदर के भी टीम में बने रहने की उम्मीद है जिसका मतलब है। इन हालातों में ऑलराउंडर रविन्द्र जडेजा और स्पिनर युजवेंद्र चहल को शायद ही अंतिम ग्यारह में जगह मिले।
सलामी बल्लेबाज के तौर पर शिखर धवन और लोकेश राहुल अपने आप को एकदूसरे से बेहतर साबित करने का पूरा प्रयास करेंगे। अनुभवी तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह इस मैच में शानदार प्रदर्शन कर लय हासिल करना चाहेंगे। युवा शिवम दुबे को टीम में अपना स्थान बनाये रखना है तो उन्हें बेहतर बल्लेबाजी करनी होगी। वहीं दूसरी ओर मेहमान श्रीलंकाई टीम भारत से हर मायने में पीछे नजर आ रही है। दूसरे टी20 में यह साबित भी हुआ है। टीम में अनुभव की कमी साफ नजर आयी है।
श्रीलंकाई टीम को अगर इस मैच में सीरीज बराबर करनी है तो उन्हें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। लंकाई बल्लेबाजों को अच्छी शुरूआत को बड़ी पारियों में बदलना होगा। वहीं ऑलराउंडर इसुरू उडाना के चोटिल होने से भी टीम की परेशानियां बढ़ी हैं। बल्लेबाजी की बात करें तो श्रीलंकाई टीम की उम्मीदें एंजेलो मैथ्यूज, धनुष्का गुणतिलक पर टिकी रहेंगी। वहीं गेंदबाजी की कमान कप्तान लसिथ मलिंगा के हाथों में रहेंगी।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं :
भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, संजू सैमसन, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी और वाशिंगटन सुंदर।
श्रीलंका : लसिथ मलिंगा (कप्तान), धनुष्का गुणतिलक, अविष्का फर्नांडो, एंजेलो मैथ्यूज, दासुन शनाका, कुसल परेरा, निरोशन डिकवेला, धनंजय डि सिल्वा, इसुरु उडाना, भानुका राजपक्षे, ओशदा फर्नांडो, वानिंदु हसरंगा, लाहिरु कुमारा, कुसल मेंडिस, लक्षण संदाकन और कसुन राजिता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!