कोरिया जिले के प्रभारी सचिव श्री दुग्गा ने किया अंतर्राज्यीय बैरियर घुघरी का निरीक्षण

बीज प्रक्रिया, आंगनबाडी, धान उपार्जन केंद्र सहित हाट बाजार, क्लीनिक का किया अवलोकन

रायपुर 10 जनवरी 2020

कोरिया जिले के प्रभारी सचिव श्री नरेंद्र कुमार दुग्गा ने बुधवार को विकासखंड भरतपुर के ग्राम पंचायत हरचौका स्थित अंतर्राज्यीय बैरियर घुघरी का निरीक्षण किया। उन्होंने मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा पर बने इस चेकपोस्ट पर अवैध धान परिवहन को रोकने के लिए 24 घंटे सतत् निगरानी के लिए शिफ्टवाईज अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने वहां संधारित फाईलों का निरक्षण किया और थाना प्रभारी को सुरक्षा व्यवस्था दुरूस्त करने कहा।
प्रभारी सचिव श्री दुग्गा ने छत्तीसगढ़ राज्य बीज एवं कृषि विकास निगम लिमिटेड अंतर्गत संचालित बीज प्रक्रिया केंद्र लोहारी का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारी से किसानों की संख्या, पंजीयन एवं शासन से मिले टारगेट, गोदाम में रखे गये अनाजों, गेंहू, उड़द, सरसों के खरीद का पंजीयन की जानकारी ली। उन्होंने बिल्डिंग मरम्मत कराने के साथ-साथ संबंधित अधिकारी से बीज उत्पादन समिति की जानकारी लेते हुए ज्यादा से ज्यादा बीज उत्पादन कार्य करने कहा। उन्होंने खेतों में जाकर गेहूं के फसलों का अवलोकन किया। श्री दुग्गा नेे आंगनबाडी केंद्र चैनपुर पहुंचकर अण्डा चिकी वितरण, एनिमिक महिलाओं तथा गर्भवती माताओं को दिये जाने वाले गर्म भोजन, गंभीर कुपोषित से मध्यम कुपोषित एवं सामान्य श्रेणी में आये बच्चों की जानकारी की और संबंधित अधिकारी को शासन के निर्देशों का पालन करने के निर्देश दिए।
इसके बाद प्रभारी सचिव ने विकासखंड मनेन्द्रगढ के ग्राम रोकड़ा में आयोजित साप्ताहिक बाजार पहुंचकर मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना का जायजा लिया। उन्होंने उपस्थित डाक्टरों से दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस मौके पर श्री दुग्गा ने हाट बाजार क्लीनिक में आए मरीजों से चर्चा भी की। श्री दुग्गा ने आदर्श गौठान रोझी पहुंचकर मवेशियों, चारे की उपलब्धता, वर्मी कम्पोस्ट बिक्री, पैरादान आदि की जानकारी लेते हुए दुग्ध पालक समिति बनाने, बकरी पालन के लिए शेड बनाने कहा और स्व-सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा कर उन्हें आर्थिक सशक्तिकरण की जानकारी दी।
भ्रमण के दौरान प्रभारी सचिव कृषि ऊपज मंडी समिति चैनपुर एवं आदिम जाति सेवा सहकारी समिति माडीसरई तथा धान उपार्जन केंद्र पटना पहुंचे और वहां किसानों के टोकन कटने, ऋण पुस्तिका, स्टेक होल्डिंग, नया एवं पुराना बारदाना, स्टैपिंग, धान के उठाव, किसानों के भुगतान, जब्त धान की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने वहां संधारित दस्तावेजों को अवलोकन किया। उन्होंने किसान एवं ग्रामीणों की समस्याएं सुनकर संबंधित अधिकारी को आवश्यक निर्देश दिये। इस दौरान कलेक्टर श्री डोमन सिंह उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!