श्रीराम जानकी मंदिर नगपुरा के नाम भूमि को महंत द्वारा फर्जी तरीके से बेचे जाने के खिलाफ ग्रामीणों ने की पुलिस चौकी में शिकायत..

श्रीराम जानकी मंदिर नगपुरा के नाम भूमि को महंत द्वारा फर्जी तरीके से बेचे जाने के खिलाफ ग्रामीणों ने की पुलिस चौकी में शिकायत..
RO No.12822/158

RO No.12822/158

RO No.12822/158

दुर्ग। श्रीराम जानकी मंदिर नगपुरा के जमीन को महंत धर्मेंद्र दास द्वारा फर्जी तरीके से विक्रय किये जाने के सम्बन्ध में ग्रामीणों ने चौकी प्रभारी नगपुरा को ज्ञापन सौप कर मामले की जांच कर महंत के खिलाफ अपराध दर्ज करने की मांग की है । उपस्थित ग्रामीणों ने कार्यवाही नहीं होने पर उग्र प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है। 

बता दे कि राम जानकी मंदिर ग्राम नगपुरा में भगवान राम के नाम पर कृषि भूमि स्थित है। उक्त कृषि भूमि को आवेदक गोविंद देवांगन के पूर्वजों के द्वारा मंदिर बनाकर उसमें स्थापित मूर्ति के नाम पर रजिस्टर्ड दान पत्र के द्वारा वर्ष 1945 में मंदिर के सरवराकार गोविंद के  पिता स्व. बुधुसाव देवांगन द्वारा दिया गया था। जिसे फर्जी महंत धर्मेन्द्र दास के द्वारा अपना नाम राजस्व अभिलेख पर दर्ज कराकर मूर्ति के नाम भूमि को अपने स्वामित्व की भूमि बताकर कई व्यक्तियों को  कलेक्टर से अनुमति लिये बगैर पंजीयक कार्यालय दुर्ग से सांठ-गांठ कर विक्रय कर रहा है। जबकि वास्तविकता यह है कि पंजीयक कार्यालय दुर्ग के माध्यम से फर्जी महंत धर्मेन्द्र दास के द्वारा जिन-जिन व्यक्तियों को मूर्ति की नाम पर पटवारी रिकार्ड में दर्ज भूमि को विक्रय किया है उनका नामांतरण को अनुविभागीय अधिकारी दुर्ग, संभागायुक्त दुर्ग, राजस्व मण्डल रायपुर के द्वारा खारिज कर दिया गया है। तथा उपरोक्त आदेश में महंत धर्मेन्द्र दास को यह स्पष्ट रूप से अवगत कराया गया है कि मंदिर की भूमि को कलेक्टर के अनुमति के बिना विक्रय नहीं किया जा सकता है । जिसके बावजूद महंत धर्मेन्द्र दास कलेक्टर से अनुमति ना लेकर कई व्यक्तियों से मंदिर की भूमि को अपनी भूमि बताकर विक्रय कर रकम ऐंठ लिया है। जबकि वास्तविकता यह है कि ग्राम नगपुरा के राम जानकी मंदिर के स्वामित्व के भूमि का देख-रेख एवं व्यवस्था सरवराकार स्व. बुधु साव देवांगन के सुपुत्र  द्वारा ग्रामवासी नगपुरा के मदद से किया जा रहा है। पुलिस को सौपे ज्ञापन में कहा गया कि हम ग्राम वासी महंत धर्मेन्द्र दास के विरूद्ध कार्यवाही चाहते है। कृप्या हमारे शिकायत पर महंत धर्मेन्द्र दास के विरुद्ध जांच कर अपराध दर्ज किया जावे।
ज्ञापन सौंपने वालों में 
दानदाता परिवार के गोविन्द देवांगन के नेतृत्व में अंजोरा मंडल अध्यक्ष भाजपा गिरेश साहू, उप सरपंच इतवारी निषाद, पूर्व सरपंच सुकदेव देवांगन, भागी राम देवांगन, धनराज धनकर, बिसोहा धनकर, श्याम निषाद, राजू गोस्वामी, दुश्यंत निर्मलकर रसमड़ा, भुवन देवांगन, गयाराम, हेमचंद धनकर, बिसाहू सिन्हा, गोपी सिन्हा, दिलीप यादव, मुकेश मांडले, रमेश देवांगन, शिव देवांगन, ओमकार देवांगन, शिवनारायण निषाद,पप्पू गोस्वामी सहित अन्य शामिल है।