शतरंज मानसिक विकास बढ़ाने में सहायक  - निर्मला राठी

शतरंज मानसिक विकास बढ़ाने में सहायक  - निर्मला राठी

राज्य महिला शतरंज चैंपियनशिप का शुभारंभ किया निर्मला राठी ने
 दुर्ग। छत्तीसगढ़ प्रदेश शतरंज संघ के निर्देशन में जिला शतरंज संघ दुर्ग के द्वारा छत्तीसगढ़ स्टेट महिला चेस चैंपियनशिप 2023 का आगाज आज सेक्टर 6 भिलाई के ब्रजमंडल गीता भवन में हुआ। समारोह की मुख्य अतिथि समाज सेविका श्रीमती निर्मला राठी  ने अपने सम्बोधन में कहा कि शतरंज एकाग्रता का खेल है। इसे खेलने से मानसिक विकास बढ़ता है। शतरंज का खेल मनोरंजन का भी बेहतरीन माध्यम है। इसे हर उम्र के लोगों को खेलना चाहिए क्योंकि मनोरंजन की जरूरत सभी को होती है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही भारतीय टीम की कोच रही अंतराष्ट्रीय महिला शतरंज खिलाडी सुश्री किरण अग्रवाल ने कहा कि शतरंज एक रोचक खेल के साथ-साथ बुद्धि का खेल है। शतरंज का खेल जीवन से जुड़ा हुआ है। यह खेल हमें धैर्य व संयम से रहना सिखाता है। सर्वप्रथम अतिथियों का स्वागत जिला शतरंज संघ दुर्ग के अध्यक्ष ईश्वर सिंह राजपूत, रमेश चंद्र अग्रवाल, अनीस अंसारी,रॉकी देवांगन, एसके भगत, इम्तियाज एवं अन्य लोगो द्वारा किया गया। तत्पश्चात श्रीमती निर्मला राठी एवं सुश्री किरण अग्रवाल द्वारा शतरंज की चाल चलकर राज्य महिला चैस चैंपियनशिप का शुभारम्भ किया गया।
प्रथम राउंड  के पश्चात् परिणाम  इस प्रकार रहे-
पहले टेबल पर शीर्ष वरीयता प्राप्त ्रष्टरू रिदम सिंघल (रायपुर) ने अवनि केशरवानी (कवर्धा) को हराया। दूसरे टेबल पर काले मोहरों के साथ इशिका मड़के (दुर्ग) ने इच्छा साहू (दुर्ग) को हराया। तीसरे टेबल पर कवर्धा की जलधि केशरवानी ने उलटफेर करते हुए दुर्ग की हिमानी देवांगन को हराया। चौथे टेबल पर बालोद की धारिणी साहू ने रायगढ़ की जेश केशरवानी को हराया। पांचवे टेबल पर रायपुर की तनीषा ड्रोलिया ने दुर्ग की कनक मानकर को मात दी। कार्यक्रम का संचालन फीडे आर्बिटर राकी देवांगन एवं आभार प्रदर्शन संघ के अध्यक्ष ईश्वर सिंह राजपूत ने किया।