देश की टॉप 50 सीए फर्म में पहली बार छतीसगढ़ की फर्म को मिली जगह

देश की टॉप 50 सीए फर्म में पहली बार छतीसगढ़ की फर्म को मिली जगह

-ऑडिटर जनरल ऑफ इंडिया ने जारी की सूची
-सूची में 'लक्ष्मी तृप्ति एंड एसोसिएट्सÓ 36 वें स्थान पर शामिल
दुर्ग। ऑडिटर जनरल ऑफ इंडिया ने देश की टॉप 50 सीए फर्मों की सूची जारी की है। सूची में शहर की सीए फर्म 'लक्ष्मी तृप्ति एंड एसोसिएट्सÓ ने 36 वें स्थान पर अपनी जगह बनाकर शहर को गौरवान्वित किया है। यह पहला अवसर है, जब छत्तीसगढ़ के इतिहास में किसी फर्म ने देशभर की टाप 50 सूची में अपना स्थान बनाया है। फर्म 'लक्ष्मी तृप्ति एंड एसोसिएट्सÓ सरकारी कंपनियों और निकायों का ऑडिट कर सकेगी।
फर्म के साझेदार आनंद अग्रवाल ने बताया कि यह रैंकिंग सीए  फर्म की आयु, साझेदारों की संख्या, फर्म से उनके लंबे जुड़ाव, कर्मचारियों की संख्या, टर्नओवर एवं फर्म द्वारा संपादित कार्य और साझेदारों व सहयोगियों के अतिरिक्त क्वालिफिकेशन के आधार पर जारी की जाती है।
साझेदार सुनील अग्रवाल के अनुसार इससे पूर्व रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा बैंक ऑडिट के लिए बनाई गई सूची में भी 'लक्ष्मी तृप्ति एंड एसोसिएट्सÓ फर्म को वर्ष 2020 में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ था।
देशभर में फैली है फर्म की शाखाएं
फर्म के साझेदार राजेश गुप्ता ने बताया कि 'लक्ष्मी तृप्ति एंड एसोसिएट्सÓ की स्थापना जुलाई 1998 में दुर्ग के चार्टर्ड अकाउंटेंट एलएन अग्रवाल द्वारा की गई थी। 2010 तक यह फर्म एक मंझेले स्तर की फर्म थी। तत्पश्चात फर्म का विस्तार करते हुए इसका पंजीकृत कार्यालय मुंबई शिफ्ट किया गया। हालांकि फर्म का कॉरपोरेट ऑफिस अब भी पदमनाभपुर (दुर्ग) में स्थित है। फर्म में वर्तमान में 26 साझेदार, 10 सीए एम्प्लाईज सहित लगभग 200 लोगों का स्टाफ देशभर की 20 शाखाओं में कार्यरत हैं। फर्म की शाखाएं मुंबई, दिल्ली, रायपुर, बिलासपुर, जबलपुर, लखनऊ, जमशेदपुर, गुवाहाटी, सूरत, उदयपुर, नोएडा, भोपाल, चंडीगढ़, चांपा, मनेंद्रगढ़, भरतपुर और नवादा में स्थित है।
फर्म के 12 साझेदार छत्तीसगढ़ से हैं, इनमें दुर्ग से एलएन अग्रवाल, राजेश गुप्ता, सुनील अग्रवाल, ललित तापडिय़ा, गौरव अग्रवाल, यश पारेख, रायपुर से अजय चंद्राकर, शशिकांत चंद्राकर, बिलासपुर से आनंद अग्रवाल, अनिल कुमार, चांपा से अभय पालीवाल एवं मनेंद्रगढ़ से आकाश अग्रवाल शामिल हैं।