केरल में मंकीपॉक्स के फैलने का खतरा, संक्रमित व्यक्ति की मौत के बाद 20 लोग क्वारंटाइन

केरल में मंकीपॉक्स के फैलने का खतरा, संक्रमित व्यक्ति की मौत के बाद 20 लोग क्वारंटाइन

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

तिरुवनंतपुरम ।  केरल के त्रिसूर में मंकीपॉक्स का संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। मंकीपॉक्स से संक्रमित व्यक्ति की मौत के बाद 20 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है। अधिकारियों ने पुष्टि की है कि पीडि़त व्यक्ति 10 लोगों से सीधे संपर्क में आया था, जिसमें उसके परिवार वाले और दोस्त शामिल हैं। 
शिक्षा और स्वास्थ्य स्थायी समिति की सदस्य रेंजिनी ने कहा, हालात नियंत्रण में है। यहां किसी तरह की घबराहट नहीं है। पीडि़त व्यक्ति 10 लोगों के सीधे संपर्क में आया था, जिसमें उसके परिवार वाले और दोस्त शामिल हैं। अब तक 20 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है। त्रिसूर में पुन्नयूर गांव के पंचायत मेंबर्स ने भी मीटिंग की, जहां मौजूदा स्थित पर चर्चा की गई।
30 जुलाई को हुई थी संक्रमित व्यक्ति की मौत
मालूम हो कि 30 जुलाई को जिस 22 वर्षीय युवक की मौत हुई थी, सोमवार को उसके सैंपल्स में मंकीपॉक्स का संक्रमण होने की पुष्टि हुई है। युवक हाल में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से लौटा था। वहां भी उसके मंकीपॉक्स वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। यूएई में 19 जुलाई को उसके सैंपल लिए गए थे और 21 जुलाई को वह भारत लौटा था। इसके बाद 27 जुलाई को उसे त्रिशूर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
जांच के लिए एनआईवी भेजा गया था सैंपल
युवक के नमूनों को जांच के लिए पुणे में स्थित राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) भेजा गया था। सूत्रों ने कहा कि सोमवार को उसके सैंपल्स में संक्रमण मिलने की पुष्टि हुई। मृतक के रिश्तेदारों के अनुसार, उन्हें 30 जुलाई को बताया गया कि यूएई में लिए गए उसके सैंपल्स में भी संक्रमण मिलने की पुष्टि हुई थी। 30 जुलाई को ही युवक की मौत हो गई थी।